Friday, August 2, 2019

Balance Sheet of Company (DMart) Part 2

Balance Sheet Of a Company.

पिछली Post में हम DMart की Balance Sheet में Assets वाले हिस्से को समझा था।

आज हम उसका बाकी का हिस्सा समझेंगे ।


Balance Sheet of a Company (DMart) :


Balance Sheet के बाकी के हिस्से में कंपनी की Equity और Liabilities सामिल है ।

1) Equity :


Equity कंपनी के शेयर बेचकर जुटाया हुआ पैसा है।

जब भी कोई कंपनी शेयर बाजार में खुद को लिस्ट करवाना चाहती है, तब वह अपने शेयर पहली बार Public को बेचती है ।

शेयर बेचकर जो पैसा आता है, वह Equity में लिया जाता है ।

Equity के दो हिस्से होते है।

जिसमे Equity Share Capital और Reserves and Surplus (Other Equity) सामिल है।

इन दोनों के बारे में हम पहले से जान चुके है।

अगर आप नहीं जानते तो यहाँ से जान सकते है : Equity Meaning in Hindi.

1) Equity Share Capital :


DMart के लिए Equity Share Capital 624.08 करोड़ है।

यानि DMart ने अपने 62.408 करोड़ शेयर जारी किए है।

2) Reserves and Surplus :


इसमें कंपनी द्वारा कमाया गया मुनाफा भी जमा किया जाता है।

उदाहरण के तौर पर अगर कंपनी ABC के लिए पिछले साल Reserves and Surplus 100 करोड़ था।

और इस साल उसने 10 करोड़ का मुनाफा कमाया।

अब उसके लीए Reserves and Surplus होगा 110 करोड़

इस लिए किसी भी कंपनी के लिए Reserves and Surplus लगातार बढ़ना बहुत ही अच्छी बात है।

DMart के लिए Reserves and Surplus 4970.40 करोड़ है, जो पिछले साल 4018.63 करोड़ था।

यानि करीब 24 % से Reserves and Surplus बढ़ा है जो बहुत ही अच्छी बढ़त है।

अब हम DMart की Balance Sheet में Liabilities के बारे में देखेंगे,


Liabilities :



Assets की तरह ही Liabilities भी दो तरह की है,

  1. Non-Current Liabilities और
  2. Current Liabilities

इन दोनों के बारे में भी हम पहले ही Assets और Liabilities वाली Post में जान चुके है।

Non-Current Liabilities :



Non-Current Liabilities वैसे दायित्व है, जिन्हे चुकाने के लिए कंपनी के पास 1 साल से ज्यादा समय है।

इसमें अगर कंपनी ने लम्बे समय के लिए कोई क़र्ज़ लिया है, तो वह सामिल है।

जैसे DMart के लिए Non-Current Liabilities में पहला है Borrowings जो की है, 125.67 करोड़ की।

यानि DMart ने लम्बे समय के लिए 125.67 करोड़ का क़र्ज़ ले रखा है।

अगर किसी कंपनी के लिए यह Borrowings बढ़ती ही जा रही है, और Reserves and Surplus नहीं बढ़ रहे है, तो वह एक खतरे का इसारा है।

एक निवेशक के तौर पर हमें इस चीज़ पर बहुत ध्यान देना चाहिए।

इसके बाद है,

Other Non-Current Financial Liabilities :


इसमें लम्बे समय के बाकि दायित्व आते है।

जैसे DMart के लिए 0.78 करोड़ यानि 78 लाख की Rent Deposit ली है।

यानि किसी चीज़ को किराए पर देते वक्त DMart ने जो Deposit के तौर पर 78 लाख रुपए लिए है।

Non-Current Liabilities में अगला है,

Deferred tax liabilities :


कई बार कंपनियां Account Books और Tax Books में Profit अलग अलग होने से Tax कम चुकाती है।

जो उन्हें अगली बार चुकाना पड़ता है।

इस Tax को Deferred Tax Liability कहा जाता है ।

DMart के लिए यह Deferred Tax Liability है, 64.07 करोड़ की।

अब देखते है,

Current Liabilities :



ये वह दायित्व है जो कंपनी को 1 साल से कम समय में चुकाने है ।

इनमे कम समय के कर्ज, कोई Supplier को देने का पैसा जैसी चीज़े सामिल है ।

DMart के लिए यह कर्ज 299 करोड़ है ।

उसके बाद है,

Trade Payable Due to Micro and Small Enterprise :


यानी किसी MSME (छोटी कंपनी) को अगर पैसा देना बाकी हो, वह पैसा।

और उसके अलावा किसी और को पैसा देना बाकी हो वह पैसा।

DMart के लिए Trade Payable Due to MSME है, 5.44 करोड़ है ।

और Trade Payable Due to other than MSME है 452.84 करोड़ है।

इसके बाद है,

Other Current Financial Liabilities :


इसमें एक साल के अंदर Mature होंने जा रही Term Loan , Debentures सामिल है।

इसके अलावा Employees को देने बाकि हो वह Salary और Wages जैसी कई चीज़े सामिल है।

DMart के लिए यह अब कुछ मिलकर है, 420.54 करोड़

इसके बाद है,

Other Current Liabilities :


Other Current Liabilities में क़ानूनी खर्च और बाकि के खर्च सामिल है।

DMart के लिए यह Other Current Liabilities है, 21.93 करोड़

और आखिर में है,

Provisions :


भविष्य में होने वाले कुछ खर्च के लिए कंपनिया कुछ पैसा अभी से निकाल के रखती है, जिसे Provisions कहते है।

जैसे DMart ने अपने Employees के कुछ खर्च के लिए 12.67 करोड़ रुपए Provisions में रखे है ।

इस तरह DMart की Total Current liabilities होती है, 1212.57 करोड़ की।

और Total Equities & Liabilities मिलकर होगा 6997.57 करोड़

जो राशि DMart के Total Assets जितनी ही है।

यानि Total Assets = Total Equities & Liabilities ( Equity + Total Liabilities)

तो दोस्तों इस तरह हमने DMart के उदाहरण से समझा Balance Sheet of a Company को।

उम्मीद करता हु यह जानकारी आपके लिए उपयोगी साबित होगी।

साथ ही इस पोस्ट को सोशल मीडिया पर अपने दोस्तों के साथ शेयर जरुर करे ताकि वो भी इसके बारे में जान सके।

अगर आप ऐसी ही जानकारी सीधे अपने Email पर Free में पाना चाहते है, तो हमारे Free Weekly Newsletter को जल्दी से Subscribe करे।

Disclaimer : [मैंने DMart का उदहारण सिर्फ आपको समझाने के लिए ही लिया है।

में कोई वित्तीय सलाहकार नहीं हु। इस लिए अपना कोई भी निवेश खुद के ज्ञान या कोई वित्तीय सलहाकार की सलाह पर ही करे। ]




Comments