Sunday, July 28, 2019

PEG Ratio क्या है ? कैसे इसका उपयोग किया जाता है ?


PEG Ratio.

इस से पहले हम PE Ratio के बारे में जान चुके है।

तब हमने जाना था की अच्छी कंपनी के शेयर कम हमें 15 से कम PE Ratio होने पर
ही खरीदने चाहिए।

लेकिन जब बाजार में बहुत तेज़ी चल रही होती है,तब ऐसा नहीं होता।

अच्छी कंपनीओ के शेयर सस्ते नहीं होते क्युकी कोई उसे बेचना नहीं चाहता।

इस लिए हमें अच्छी कंपनियां 15 से कम PE Ratio पर नहीं मिलती।

लेकिन फिर भी हमें निवेश तो करना ही है।

और कुछ कंपनियां जो की 15 से कम PE Ratio वाली होती है, मगर अच्छी नहीं होती , उनमे तो निवेश कर नहीं सकते।

ऐसी स्थिति में किन कंपनीओ में निवेश किया जाए उसके लिए PEG Ratio का उपयोग होता है।

और आज हम उसके बारे में ही जानेंगे।

PEG Ratio क्या है ?


यह एक Ratio है, जो हमें यह बताता है, की कंपनी की Growth के मुकाबले कंपनी का PE Ratio कितना है।

जिससे हमें यह पता लगता है, की कौनसा ज्यादा PE Ratio वाला शेयर खरीदने लायक है और कौनसा नहीं।

जिससे जब शेयर बाज़ार में बहुत तेज़ी होती है, तब भी हम अच्छी कंपनीओ में निवेश कर सकते है।

क्या है PEG Ratio Formula ?


PEG Ratio का formula है,


यहाँ पर PE Ratio हम शेयर के बाजार में दाम को उसके EPS से विभाजित कर के खोज सकते है।

और Earnings Annual Growth Rate हम पिछले साल का ले सकते है, या फिर आने वाले साल का अनुमानित Rate ले सकते है।

इस लिए PEG Ratio अलग अलग निवेशक के अनुसार अलग अलग हो सकता है।

कैसे उपयोग करे PEG Ratio का ?


अगर किसी कंपनीका PE Ratio बहुत ज्यादा है, और वह कंपनी बहुत अच्छी है, तो हम उसके PEG Ratio का उपयोग कर सकते है।

जिस से हमें यह पता लगता है की हम उस कंपनी में निवेश कर सकते है, या नहीं ?

अगर PEG Ratio 1 या उस से कम है, तो Earnings Growth के मुकाबले कंपनी का PE Ratio कम है।

उस कंपनी में ज्यादा PE Ratio होने पर भी निवेश किया जा सकता है।

क्युकी वह कंपनी भविष्य में EPS बढ़ जाने से सस्ती हो जाएगी।

और अगर PEG Ratio 1 से ज्यादा है, तो उसकी Earnings Growth के मुकाबले कंपनी का PE Ratio ज्यादा है।

तब हमें उस कंपनी में निवेश नहीं करना चाहिए।


उदाहरण के तौर पर कंपनी ABC के एक शेयर का दाम है, 300 रुपए और उसका EPS है, 15 रुपए।

और उस कंपनी का पिछले साल का Earnings Growth है , 25 % .

इस तरह कंपनी का PE Ratio होगा 20 x (times).

और उसका

PEG Ratio = 20 / 25 = 0.8  होगा।

जो की 1 से कम है, तो उस कंपनी में तो हम उसमे निवेश कर सकते है।

हा लेकिन बाकि बहुत सी चीज़ो को भी देखना पड़ेगा।

सिर्फ PEG Ratio के आधार पर निवेश नहीं किया जा सकता।

इसी तरह आप भी किसी भी कंपनी के लिए जान सकते है, की उसमे PE Ratio ज्यादा होने पर निवेश कर सकते है, या नहीं।

तो दोस्तों उम्मीद करता हु की यह जानकारी आपके लिए बहुत उपयोगी साबित होगी।

क्या आप ऐसी ही अच्छी जानकारी सीधे अपने Email पर Free में पाना चाहते है ?

तो जल्दी से हमारे Free Weekly Newsletter को यहाँ से Subscribe कर ले।

और इस जानकारी के बारे में आपका कोई सवाल हो तो हमें Comment में जरूर बताए।



Comments