Thursday, June 6, 2019

Sovereign Gold Bonds Scheme 2019

Sovereign Gold Bonds.

दोस्तों हमारे देश में बर्षो से लोग सोने के गहने बहुत ज्यादा खरीदते है।

अगर किसी की शादी हो तब तो लोग बहुत ज्यादा सोना खरीदते है।

Image Source
हमारा देश दुनिया का सबसे ज्यादा सोना खरीदने वाला देश है।

वर्ल्ड गोल्ड काउन्सिल द्वारा दी गई माहिती के अनुसार साल 2018 में भारत में 760.4 टन (760400 kg) सोने का उपयोग किया गया था।

जब 2018 में ही पूरी दुनिया में 4345.1 टन (4345100 kg) सोने का उपयोग किया गया था।

यानी पूरी दुनिया में ख़रीदे जाने वाले सोने में से 17.50 % सोना तो सिर्फ भारत ने ही ख़रीदा था।

हमारे बुज़ुर्ग सोना खरीद कर अपने पास रख लेते थे जिस से कोई शादी ब्याह में वह काम भी आ सके और उसका निवेश भी हो सके।

लेकिन सोना खरीदने में और उसे एक निवेश के तौर पर रखने में बहुत सी समस्याएँ है।

जैसे की ,
  • गहने बनवाने का खर्च लगता है।
  • बेचने के आलावा हम उस से पैसा नहीं कमा सकते।
  • चोरी हो जाने का डर हमेशा रहता है।
  • पुराने गहने को नए डिज़ाइन के बनाने में पैसा लगता है।
  • बेचने पर सिर्फ सोने का दाम ही मिलता है, बाकि खर्च वापिस नहीं मिलता।
इनमे सबसे ज्यादा बड़ी समस्या सोना चोरी होने का डर है।

लेकिन अब हमारी इन सभी समस्याओ का समाधान एक तरीके से हो सकता है।

उस तरीके से आपका सोना कोई कभी चोरी भी नहीं कर सकता।

इसके आलावा आपको आपके सोने पर हर साल ब्याज भी मिलेगा।

इस तरीके का नाम है  'Sovereign Gold Bonds'.

क्या है Sovereign Gold Bonds?


Sovereign Gold Bonds एक तरह के सोने के प्रमाण पत्र होते है।

यह प्रमाण पत्र सरकार की तरफ से RBI जारी करती है।

हर एक प्रमाणपत्र 1 ग्राम सोने की कीमत का होता है।

इन प्रमाणपत्र को खरीद कर निवेश के तौर पर रखा जा सकता है।

यह प्रमाणपत्र को खरीद कर निवेशक सरकार को पैसा देता है।

जिससे इस में किए गए निवेश में सरकार की 100 फीसदी गारंटी रहती है।

इस वजह से इसमें निवेशक के पैसा के डूबने का ज़रा भी जोख़िम नहीं होता।

निवेशक को इस से क्या लाभ है ?


एक निवेशक को यह बॉन्ड खरीदने से बहुत से लाभ होते है।
  • हर साल 2.5 % ब्याज मिलता है। जो साल में दो हिस्सों में दिया जाता है।
  • बेचते वक्त निवेशक को उस समय के सोने के दाम के हिसाब से पैसा मिलता है।  
  • यानी अगर आपने आज 30 हजार में सोने के SGB ख़रीदे है, निवेश की अवधि ख़त्म होने पर अगर उस समय सोने का दाम 60 हजार चल रहा है तो आपको 60 हजार मिलेंगे। 
  • इस तरह इसमें निवेशक को ब्याज और मूल राशि बढ़ने दोनों तरह से लाभ मिलता है।
  • यह प्रमाणपत्र अब तो आप डीमैट के रूप में अपने डीमैट खाते में भी रख सकते है, जिससे चोरी होने का बिलकुल डर नहीं रहता।
  • यह एक प्रमाणपत्र होने से आपको मेकिंग चार्ज जो गहने बनाते वक्त देने पड़ते है वह नहीं देने पड़ेंगे।
  • इसके आलावा यह पुराना नहीं होता जिससे आपको बार बार डिज़ाइन बदलवाने की जरुरत नहीं होती।
  • बेचने पर पूरा ही दाम मिलता है।
इस तरह यह बॉन्ड एक निवेश के लिए ख़रीदे गए सोने की सभी समस्याओ का समाधान करता है।

कितनी अवधि तक यह प्रमाणपत्र रखने होंगे ?


SGB की परिपक़्वता अवधि वैसे तो 8 साल है यानी 8 साल तक आपको इसमें निवेशित रहना होगा।

लेकिन जारी करने के 5 साल के बाद निवेशक चाहे तो इसे वापस RBI को बेच सकता है।

लेकिन ऐसा करने पर उसे बाकि के तीन साल का ब्याज नहीं मिलेगा।

5 साल से पहले पैसो की जरुरत होने पर क्या करे ?


अगर आप 5 साल से पहले इन SGB से पैसा निकलना चाहते है, तो आप इन्हे स्टॉक एक्सचेंज में बेच सकते है।

जैसे आप NSE और BSE पर अपने SGB बेच सकते है।

इस तरह निवेशक 5 साल से पहले भी अपने पैसे निकाल सकता है।

कौन कौन इन Sovereign Gold Bonds को खरीद सकता है और कहा से ?


इन SGB को कोई भी भारतीय नागरिक खरीद सकता है। HUF और कोई ट्रस्ट भी खरीद सकता है।

NRI इसे नहीं खरीद सकते।

इसे दो व्यक्ति मिल कर भी खरीद सकते है।

यह बॉन्ड आप स्माल फाइनेंस बैंक और पेमेंट बैंक के आलावा सभी बैंको से ऑनलाइन और ऑफलाइन खरीद सकते है।

ऑनलाइन खरीदने पर निवेशक को हर एक ग्राम के प्रमाणपत्र के दाम पर 50 रुपए का डिस्काउंट मिलेगा।

इसके अलावा अधिकृत डाकघर और अधिकृत स्टॉक एक्सचेंज पर से खरीद सकते है।

लेकिन SGB आप फिक्स्ड डिपाजिट की तरह कभी भी नहीं खरीद सकते।

हर तीन महीने में सरकार यह SGB जारी करती है, तब आप इसे खरीद सकते है।

RBI द्वारा यह SGB इस महीने (जून) में 3 से 7 तक जारी किए जा रहे है।

यह जानकारी यहाँ से ले सकते है , SGBN30052019

आप 7 तारीख यानी कल तक इसे खरीद सकते है।

आगे जब भी SGB को जारी करना शुरू होगा उसकी जानकारी आप यहाँ (RBI) से ले सकेंगे।


कितना सोना खरीद सकते है ?


हर साल एक व्यक्ति 4 kg , HUF भी 4 kg और कोई ट्रस्ट हो वह 20 kg तक सोना खरीद सकता है।

दो मिलकर खरीदने वालो की स्थिति में भी यह लिमिट 4 kg तक ही रहेगी।

Sovereign Gold Bonds में निवेश पर कोई टैक्स लाभ है क्या ?


जी हा। आपको जानकर यह ख़ुशी होगी की SGB में आपको टैक्स लाभ मिलता है।

अगर आप निवेश की अवधि (8 साल) पुरी होने पर ही यह बांड RBI को बेचेंगे तो आपको मिला हुआ रिटर्न टैक्स से मुक्त होगा।

अगर आपने 8 साल पहले 10 ग्राम सोने के SGB 20000 में लिए थे और अगर आप इसे आज के के दाम के अनुसार 40 हजार में बेचेंगे तो आपका मुनाफा 20 हजार होगा।

यह पूरा मुनाफा ही टैक्स मुक्त रहेगा।

लेकिन आपको जो हर साल 2.5 % का ब्याज मिलता है उसे आपको अपनी आय के साथ जोड़ कर टैक्स देना होगा।

अगर आप 8 साल पहले 3 साल के बाद बेचेंगे तो आपको 20 % का टैक्स (इंडेक्सेशन के लाभ के साथ) देना होगा।

अगर आप उसे 3 साल से पहले बेचेंगे तो उस पर आपको मिला हुआ मुनाफा अपनी आय में जोड़ कर उस में टैक्स भरना होगा।

क्या हमें SGB खरीद कर निवेश करना चाहिए ?


मेरे अनुसार SGB हर उस निवेशक को खरीदना चाहिए जो सोने को सिर्फ निवेश के लिए ही खरीदता है।

लेकिन हम भारतीय गहनो के बहुत सौखीन होते है, अब हम SGB के प्रमाणपत्र को तो गले में लटका कर घूम नहीं सकते।

इस लिए ऐसा भी किया जा सकता है की हम कुछ पैसो से सोने के गहने ख़रीदे और बाकि के पैसो से SGB खरीदे।

जिस से आप गहने भी पहन सकते है और निवेश भी हो जाएगा।

और यह सोना आप से कोई भी चोर चोरी नहीं कर सकता।

तो इस तरह आप अपने सोने को चोरी होने से बचा सकते है।

दोस्तों उम्मीद करता हु की आपको Sovereign Gold Bonds के बारे में उचित जानकारी मिल गई होगी।

ऐसी ही जानकारी अपने ईमेल पर Free में पाने के लिए यहा से Subscribe जरूर करे।



Comments