Wednesday, May 15, 2019

Annuity Meaning in Hindi - जाने Annuity क्या है?

Annuity Meaning in Hindi

दोस्तों NPS को समझते वक्त हमने देखा था की NPS के तहत जमा हुई राशि में से निवेशक अधिकतम 60 % राशि ही एकमुश्त निकाल सकता है।

बाकि की राशि यानी कम से कम 40% राशि से निवेशक को अपने लिए Annuity प्लान खरीदना होगा।

तब हमने एन्युटी को बहुत ही संक्षेप में समजा था।

लेकिन आज हम Annuity के बारे में विस्तार से जानेंगे।

हम जानेंगे की Annuity क्या है ? उसके प्रकार क्या है ? एन्युटी में निवेश करना चाहिए या नहीं।

आइए जानते है Annuity के बारे में।

Annuity Meaning in Hindi :


Annuity एक प्रकार की निवेश योजना है जो ज्यादातर लोगो के रिटायरमेंट के लिए उपयोगी है।

यह प्लान ज्यादातर बिमा कंपनियां बेचती है।

इस प्लान में निवेशक एकमुश्त या टुकड़ो में निवेश कर सकता है।

निवेशक के रिटायरमेंट के बाद उसे जमा राशि और उसके ब्याज में से एक निश्चित राशि पेंशन के रूप में मिलती रहती है।

यह राशि निवेशक के जिन्दा रहने तक मिल सकती है , निवेशक के बाद उसके पति या पत्नी के जिन्दा रहने तक उसे भी मिल सकती है।

यह सब कुछ निवेशक किस प्रकार की Annuity योजना का चयन करता है उस पर आधारित है।

निवेशक अगर कोई निश्चित प्रतिशत की पेंशन चुनता है तो उसका जोखिम कम हो जाएगा और बिमा कंपनी को ही जोखिम झेलना पड़ेगा।

आइए जानते है,

Annuity के प्रकार क्या है ?

`
एन्युटी के प्रकार दो तरह पेंशन लेने के समय के हिसाब से है,

i) Immediate Annuity :


अगर एन्युटी में निवेशक एकमुश्त निवेश कर तुरंत ही पेंशन (Payout) लेना शुरू कर देता है, तो उसे Immediate Annuity कहा जाता है।

इस तरह का एन्युटी प्लान जो निवेशक रिटायरमेंट के नजदीक है या फिर जो रिटायर हो चुके है उनके लिए बेहतर प्लान है।

ii) Deferred Annuity :


Deferred Annuity में निवेशक धीरे धीरे निवेश कर सकता है और कुछ सालो बाद payout ले सकता है।

यह उन निवेशको के लिए बेहतर है जिन्हे रिटायर होने में बहुत समय बाकि है।

इन दोनों में ही निवेशक अपना पेंशन (Payout) निश्चित प्रतिशत से या फिर निवेश किए गए विकल्प में मिले रिटर्न के हिसाब से ले सकते है।

जैसे आप वर्षित 7% प्रतिशत से पेंशन ले सकते है या फिर निवेश के विकल्प में मिले हुए रिटर्न के हिसाब से ले सकते है।

दोनों परिस्थितिओ में निवेशक हर महीने , हर साल इस तरह पेंशन पाने की अवधि चुन सकता है।

Annuity में दिए जाने वाले Options:


एन्युटी में निवेश करने पर निवेशक कितने समय तक पेंशन प्राप्त करना चाहता है और निवेश की राशि की प्राप्ति के अनुसार निम्न प्रकार के विकल्प दिए है :

1) Life Annuity : Annuity Meaning in Hindi


इस विकल्प में निवेशक को उसके पेंशन शुरू होने से लेकर जब तक निवेशक जिन्दा रहे तब तक पेंशन (Payout) मिलता है।

इस विकल्प में निवेशक के नॉमिनी को निवेश की गई राशि वापिस नहीं मिलती।

2) Life Annuity With Return Of Corpus :


इस विकल्प में निवेशक जब तक जिन्दा रहे तब तक उसे पेंशन मिलेगा।

लेकिन निवेशक की मृत्यु के बाद उसके नॉमिनी को निवेश की राशि वापिस दे दी जाएगी।

3) Life Annuity with Joint Life, Last survivor :


इस विकल्प में निवेशक जब तक जिन्दा रहे तब तक उसे पेंशन मिलेगा।

और उसकी मृत्यु के बाद उसके पति या पत्नी के जिन्दा रहने तक उसे पेंशन मिलेगा।

इस वजह से यह प्लान शादी सुदा व्यक्तिओ के लिए बेहतरीन प्लान है।

4) Life Annuity with Joint Life, Last survivor With Return Of Corpus :


इस विकल्प में निवेशक जब तक जिन्दा रहे तब तक उसे पेंशन मिलेगा।

और निवेशक की मृत्यु के बाद उसके पति या पत्नी के जिन्दा रहने तक उसे पेंशन मिलेगा।

उसके बाद उसके नॉमिनी को निवेश की राशि वापिस कर दी जाएगी।

यह प्लान भी शादी सुदा व्यक्तिओ के लिए बेहतरीन प्लान है।

5) Annuity For Guaranteed Time :


इस तरह के विकल्प में निवेशक निश्चित समय जैसे 5, 10, 15, 20 साल के लिए अपना पेंशन (payout) ले सकता है।

इस प्लान में यदि पेंशन के समय के दौरन निवेशक की मृत्यु भी हो जाए तो भी पेंशन की राशि उसके नॉमिनी को मिलती रहेगी।

जैसे अगर निवेशक ने 15 साल के लिए पेंशन की राशि प्राप्त करने का विकल्प चुना था।

और अगर निवेशक की मृत्यु 10 साल में ही हो जाए तो निवेशक के नॉमिनी को बाकि के 5 साल तक पेंशन की राशि मिलती रहेगी।

इस तरह निवेशक अपनी जरुरत के हिसाब से एन्युटी में विकल्प का चयन कर सकता है।

इन सभी तरह के विकल्प में निवेशक को मिलने वाला पेंशन निश्चित या फॉर अनिश्चित हो सकता है।

यह उसने किस तरह के payout का चयन किया है उस पर निर्भर करता है।

यह सब तो हमने जान लिया लेकिन यह भी तो जान ना जरुरी है की,

Annuity Plan में से समय से पूर्व निकला जा सकता है ?


जी हा। Annuity Meaning in Hindi

Annuity प्लान में से निकला तो जा सकता है लेकिन इसके लिए आपको काफी बड़ी मात्रा में पेनल्टी देनी पद सकती है।

इस लिए जब भी आप कोई एन्युटी प्लान चुने तब सोच समझ कर ही चुने।

अब यह भी जान लेते है की ,


क्या Annuity में निवेश पर कोई टैक्स लाभ है ?


जी हा। Annuity Meaning in Hindi

Annuity में निवेश की गई राशि तो Section 80C के अंतर्गत कर मुक्त है लेकिन उसमे से मिला हुआ पेंशन कर मुक्त नहीं है।

इसके ऊपर निवेशक को अपनी टैक्स स्लैब के हिसाब से टैक्स भरना पड़ेगा।

Annuity Plan में किसे निवेश करना चाहिए ?


Annuity में परिपक्वता से पहले वापिस पैसा निकालने पर बहुत भारी पेनल्टी देनी पड़ती है इस वजह से यह प्लान सभी निवेशक के लिए अच्छा नहीं है।

यह सिर्फ उन्ही निवेशकों के लिए अच्छा है जो जानते है की उन्हें एन्युटी में निवेश की राशि की समय से पूर्व जरुरत नहीं पड़ेगी।

बाकि सभी निवेशक अगर ब्याज दर में कमी या वृद्धि सह सकते हो वह पोस्ट ऑफिस की मंथली इनकम प्लान में निवेश कर के अपने लिए निश्चित राशि पा सकते है।

तो दोस्तों यह थी Annuity Meaning in Hindi में हमारी जानकारी।

यह जानकारी आपको कैसी लगी हमें कमेंट में जरूर बताए।

और ऐसी ही जानकारी प्राप्त करने के लिए हमारे Newsletter को फ्री में जरूर Subscribe करे।



Comments