पोर्टफोलियो का मतलब क्या होता है ? (Portfolio Meaning in Hindi)

शेयर बाजार या फिर म्यूच्यूअल फंड में निवेश के समय हम पोर्टफोलियो शब्द का ज़िक्र जरूर सुनते है, लेकीन हमें ठीक तरह से समज नहीं आता की पोर्टफोलियो का मतलब (Portfolio Meaning in Hindi) क्या है? 

इसी लिए आज हम जानेंगे की पोर्टफोलियो के बारे मे ही जानेंगे। 

तो चलिए अब जानते है की,

पोर्टफोलियो क्या होता है ? (Portfolio Meaning in Hindi) 


पोर्टफोलियो को समझना कोई रॉकेट विज्ञानं नहीं है। दरसल portfolio एक निवेश की सूचि है। 

Advertisement
Advertisement

जिसमे हमने कितने कितने पैसो का निवेश किन किन जगहों पर किया है ?हमारी निवेश की कुल राशि कितनी है ? और हमें अभी कितना रिटर्न मिल रहा है ?

यह सब जानकारी एक ही जगह पर एक साथ मिलती है।

पोर्टफोलियो को उदहारण से समझे : (Examples of Portfolio in Hindi) 

हमने निचे पोर्टफोलियो को बहुत ही सरल तरीके से उदाहरण के द्वारा आपको समझाने का प्रयास किया है।

रमेश, सुरेश और हितेश तीनो के पास निवेश लायक 5 लाख रूपए है। रमेश ने अपने 5 लाख रूपए में से 4.5 लाख के अलग अलग कंपनीओ के शेयर खरीद लिए और बाकि के 50 हजार रुपए से डाक घर में टाइम डिपाजिट कर दी, जिस से उसका पोर्टफोलियो कुछ इस तरह होगा। 

सुरेश ने अपने 5 लाख रूपए में से 3 लाख रूपए अलग अलग कंपनीओ के शेयर में निवेश किए 1 लाख रूपए म्यूच्यूअल फंड में निवेश किए और बाकी के 1 लाख रूपए से किसान विकास पत्र खरीद लिए, जिस से उसका पोर्टफोलियो कुछ इस तरह का होगा। 

और तीसरे मित्र हितेश ने अपने 5 लाख रूपए में से 2 लाख रूपए अलग अलग कंपनीओ के शेयर में निवेश किए, 2 लाख रूपए से डाक घर से NSC खरीद लिए और बाकि के 1 लाख रूपए से Company A के डिबेंचर्स खरीद लिए, तो फिर हितेश का निवेश पोर्टफोलियो कुछ इस तरह का होगा। 



ऊपर के तीनो उदहारण से आप समज गए होंगे की पोर्टफोलियो और कुछ नहीं बल्कि एक लिस्ट है जिसमे अपने किस किस जगह कितने कितने पैसे निवेश किए है और आज उसमे कितना रिटर्न मिल रहा है, उसको लिखा जाता है, ताकि कुल निवेश में कितना रिटर्न मिल रहा है, यह एक ही जगह पर पता चल सके। 

है ना बहुत आसान ? Portfolio Meaning in Hindi

अब हम जानते है की,

पोर्टफोलियो  के प्रकार क्या क्या है ?

वैसे तो पोर्टफोलियो के प्रकार बहुत सारे हो सकते है, लेकिन यहाँ पर हम सिर्फ कुछ ही प्रकार के पोर्टफोलियो की बात करेंगे। 

Individual Portfolio :

अगर कोई व्यक्ति सिर्फ अपने निवेश का Portfolio बनाता है, तो उसे Individual Portfolio कह सकते है। जैसे हमने ऊपर रमेश, सुरेश और हितेश के पोर्टफोलियो की बात की वह तीनो के अलग अलग पोर्टफोलियो थे तो उन सभी को Individual Portfolio कह सकते है। 



Combined Portfolio :

अगर एक या उस से ज्यादा व्यक्ति ने मिल कर अलग अलग जगह पर निवेश किया हो तो उन दोनों के निवेश का एक सामान्य (Common) पोर्टफोलियो बन सकता है, जिसे Combined पोर्टफोलियो भी कहा जा सकता है। 

जैसे किसी भी म्यूच्यूअल फंड का पोर्टफोलियो combined Portfolio होता है, क्युकी उसमे एक से ज्यादा व्यक्तिओ के पैसे लगे हुए होते है। 

Diversified Portfolio :

अगर आपने आपके पैसो को बहुत सारे अलग अलग निवेश विकल्पों में लगाया है, तो उसे diversified portfolio कहेंगे। हालाकी ऐसा कुछ निश्चित नहीं है, कितने निवेश विकल्पों पर निवेश करने पर आपके पोर्टफोलियो को डाइवर्सिफाइड कहेंगे इस लिए आप अपने हिसाब से निवेश विकल्प की संख्या चुन सकते है। 



Portfolio को diversify करने का मतलब आपके निवेश के जोखिम को कम करना होता है, जिस से आपका पैसा सिर्फ एक ही विकल्प में न रह कर बहुत से अलग अलग विकल्पों में हो जिस से अगर एक दो विकल्प में  नुकसान हो तब भी आपका  पूरा पैसा न डूबे। 

अगर किसी व्यक्ति ने अपना निवेश लायक कुल पैसा जो की 1 करोड़ है, जिसमे से 50 लाख रूपए डाकघर की टाइम डिपाजिट में, ३० लाख रूपए लार्जकैप म्यूच्यूअल  और बाकि का हिस्सा अलग अलग शेयर में निवेश किए है, तो उसके पोर्टफ़ोलिओ को diversified portfolio कह सकते है।  

High Risky Portfolio :

इस के नाम से ही आपको पता चल गया होगा की इस तरह के पोर्टफोलियो में ज्यादातर निवेश विकल्प बहुत ही जोखिम भरे और लम्बे समय में ज्यादा रिटर्न देने वाले होते है, जैसे अलग अलग कंपनीओ के शेयर। 

ऊपर हमने जो उदहारण देखे उसमे से रमेश का पोर्टफोलियो सबसे ज्यादा जोखिम भरा कह सकते है, क्युकी उसी ने अपने निवेश का सबसे ज्यादा पैसा अलग अलग कंपनीओ के शेयर में लगाया है। 

इस तरह के पोर्टफोलियो में जिस तरह जोखिम ज्यादा है, उसी तरह इसमें रिटर्न भी सबसे ज्यादा मिल सकता है। 

Moderately Risky Portfolio :

अगर कोई व्यक्ति अपने निवेश लायक पैसो को इस तरह निवेश करता है, की जिस से उसका रिस्क न तो बहुत ज्यादा और न तो बहुत कम होता है, तो ऐसे निवेश के पोर्टफोलियो को Moderately Risky Portfolio कह सकते है।

ऊपर हमने जो उदहारण लिए थे उसमे से सुरेश का पोर्टफोलियो एक Moderately Risky Portfolio का उदहारण था।  क्युकी एक ओर उसने अलग अलग शेयरों में निवेश किया तो दूसरी ओर उसने Large Cap Mutual Fund और Kisan Vikas Patra में निवेश किया था जिस से उसका जोखिम कम हो जाए। 

Less Risky Portfolio :

अगर कोई व्यक्ति अपने पैसो को इस तरह निवेश करे जिस से उसका रिस्क बहुत ही कम हो जाए तो उसके पोर्टफोलियो को कम जोखिम भरा पोर्टफोलियो कह सकते है। 

जैसे ऊपर के उदहारण में हमने हितेश के पोर्टफोलियो के बारे में जाना उसका पोर्टफोलियो एक कम जोखिम भरे पोर्टफोलियो का उदहारण बन सकता है। 

अब तक हमने पोर्टफोलियो और उसके प्रकार के बारे में तो समज लिया अब हम म्यूच्यूअल फंड के पोर्टफोलियो के बारे में जानेंगे।  



तो चलिए अब जानते है, की 

Mutual Funds के लिए Portfolio क्या है ?


जैसे हमने बात की portfolio हमारे निवेश की सूचि है। वैसे ही Mutual funds का portfolio, mutual funds ने किस तरह के विकल्प में निवेश किया है ? यह बताता है।

जैसे अगर equity mutual fund है, तो किन किन कंपनीओ के शेयर में निवेश किया है यह जानकारी होगी।अगर debt mutual fund है, तो किन किन निश्चित ब्याज वाली securities में निवेश किया है, यह जानकारी होगी।

और Hybrid Fund होगा तो कौनसे शेयर में और कौनसी निश्चित ब्याज वाली securities में निवेश किया है, यह जानकारी मिलेगी।

हमने निवेश किए हुए Fund का Portfolio कैसे देखे?


पुरे Mutual Fund का Portfolio देखने तो बहुत ही आसान है। इसके लिए हमे सीधा Moneycontrol या फिर Value research online की वेबसाइट पर जाना होगा। 

फिर जिस fund का portfolio हम देखना चाहते हो उस fund का नाम Search करना होगा।जिस से उस fundके बारे में पूरी जानकारी हमें मिल जाएगी।


उस में उस fund की Top 10 Holdings यानी उस fund के portfolio के पहले 10 निवेश दिखेंगे। अगर हम पूरा portfolio देखना चाहते है, तो View full portfolio पर क्लिक करने से हम पूरा portfolio देख पाएंगे।

जिस में उस fund ने किन किन शेयर्स में निवेश किया है और उस fund का कितने प्रतिशत पैसा निवेश किया है वो देख पाएंगे।

जैसे यहाँ पर मेने SBI Bluechip fund के portfolio की Top 10 holdings निकाल रखी है।

इसी तरह आप किसी भी Fund का portfolio देख सकते है।

Note :[ इस पोस्ट में दिए गए सभी उदाहरण सिर्फ आपको समझाने के लिए दिए गए है। में उनमें से किसी में भी निवेश करने की सलाह नहीं देता। कोई भी निवेश आप अपने वित्तीय सलाहकार से सलाह ले कर ही करे। ]

निष्कर्ष : Portfolio Meaning in Hindi


दोस्तों आज हमने सीखा की पोर्टफोलियो का मतलब क्या होता है ? (Portfolio Meaning in Hindi) और अलग अलग प्रकार के उदहारण से पोर्टफोलियो को समझा। 




उम्मीद करता हु आपके लिए यह जानकारी उपयोगी साबित हुई होगी।

अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगी हो तो अपने दोस्तों के साथ Share करना न भूले।



Leave Your Comments Here :


Comments