Monday, December 10, 2018

Liquid Funds क्या है ? और वे बचत खाते से कैसे बेहतर है ?


liquid funds kya hai aur vo savings account se kaise behtar hai
नमस्कार दोस्तों। आपका SIP TO LUMP SUM में स्वागत है।

हम सभी लोग ज्यादातर अपना पैसा बचत खातों में ही रखते है इसकी सबसे बड़ी वजह हमारी आपातकालीन जरुरत होती है और हमारी जोखम लेने से बचने की आदत।

इसका सबसे अच्छा उपाय है लिक्विड फंड्स (Liquid Funds)।

आज हम जानेंगे की 'Liquid Funds क्या होते है और ये बचत खाते (Savings Account) से कैसे बेहतर है ?'


Liquid Funds बचत खाते से कैसे अलग है?


अगर हम अपना पैसा बचत खाते (Savings Account) में रखे तो हमें सालाना 4 प्रतिशत तक का ब्याज मिलता है और यदि हम FD (Fixed Deposit) या फिर RD (Recurring Deposit) में भी निवेश करे तो हमें ज्यादा से ज्यादा 6.5 से 7.5 प्रतिशत तक का ब्याज मिलता है।  

लेकिन हमें आपातकालीन जरुरत के समय पैसे निकालने पड़े तो हमें मिलने वाला ब्याज, उस पर लगने वाली पेनल्टी की वजह से बहोत ही कम हो जाता है। 

यदि हमें कुछ ऐसा मिले जो FD की तरह ज्यादा ब्याज भी दे और बचत खाते की तरह आपातकालीन जरुरत पर पैसा निकालने की सुविधा भी तो हमारे लिए यह बहोत अच्छा विकल्प रहता है।
  
इसी विकल्प का नाम है लिक्विड फंड्स (Liquid Funds)

Liquid Funds क्या है ?


लिक्विड फंड्स डेब्ट म्यूच्यूअल फंड्स होते है। 

जो की फिक्स्ड इनकम के इंस्ट्रूमेंट्स जैसे को T-Bills, Commercial Papers आदि जिनकी अवधि 1 से 91 दिन की होती हे उस पर निवेश करते है। 

जिसकी वजह से फण्ड में लिक्विडिटी की कमी नहीं होती। 

इस लिए लिक्विड म्यूच्यूअल फण्ड से हम अपना पैसा कभी भी निकाल सकते है। 

हमारे पैसा निकालने के आदेश देने के 24 घंटो के अंदर हमारा पैसा हमें मिल जाता है। 

इस लिए हमें बचत खाते की तरह आपातकालीन समय में भी पैसा मिल जाता है। 

Liquid Funds अच्छी गुणवत्ता के डेब्ट फंड्स होते है जिसकी वजह से इस में सालाना 6 से 7 प्रतिशत तक मिलता है। 

कभी कभी तो ये उस से ज़्यादा भी मिल सकता है।  

इस लिए हमारी दोनों समस्या का समाधान हो जाता है। 

हम बहुत ही कम जोखिम में अच्छी सुविधा के साथ बचत खाते से ज़्यादा ब्याज मिलता है।  

लिक्विड फण्ड की और एक खासियत ये है की यहाँ पर कोई भी एंट्री या एग्जिट लोड (Entry & Exit Load) नहीं होता।

इस लिए आप अपना पैसा मिले हुए ब्याज के साथ कभी भी निकाल सकते है। 

Growth और Dividend Option:


लिक्विड फंड्स में भी दो तरह के विकल्प होते है 

१)ग्रोथ ऑप्शन (Growth Option) और 

२) डिविडेंड ऑप्शन (Dividend Option)(Daily, Monthly और Quarterly) 

ग्रोथ ऑप्शन की NAV ज़्यादा होती है क्योकि इसमें डिविडंड नहीं दिया जाता। डिविडेंड ऑप्शन में आपको नियत अवधि में डिविडंड मिलता है।  

लिक्विड फण्ड में भी हम direct plan सीधा ऑनलाइन भी खरीद सकते है। 

जिस से की हमें regular plan से ज़्यादा ब्याज मिले।

यहाँ पर एक्सपेंस रेश्यो 0.05 से 0.15 प्रतिशत भी हो सकता है।  

इस तरह हम अपने ज्यादातर पैसो को सिर्फ बैंक में रखने के बजाए लिक्विड फण्ड में निवेश कर के बहोत ही कम जोखिम ले कर बचत खाते से ज़्यादा ब्याज प्राप्त कर सकते है। 

उम्मीद करता हु की आप सभी को लिक्विड फंड्स के बारे में समझमें आ गया होगा और ये भी पता चल गया होगा की ' ये बचत खाते (Savings Account) से कैसे बेहतर है?' 

दोस्तों यदि हमारी ये जानकारी से आपने कुछ अच्छा सीखा होतो हमारे Facebook page SIP TO LUMP SUM को Like करना ना भूले।

आपका एक भी Like हमें आगे बढ़ने में मदद कर सकता है।


और भी पढ़े :




Disqus Comments